अजनबी शहर में कामवाली – Hindi Sex Stories

हैलो दोस्तों, मेरा नाम सतीश है और मेरी उम्र २४ साल की है। मैं मुम्बई में नौकरी करता हूँ और रहने वाला इन्दौर का हूँ। अब मैं आपको अपनी कहानी सुनाता हूँ।
आज से तीन साल पहले मैं मुम्बई नौकरी करने आया था। तब मुम्बई मेरे लिए अजनबी शहर था, इसलिए मुझे मेरा अकेलापन खलता था, मुझे भी एक अच्छी दोस्त की ज़रूरत थी, ताकि मेरा समय भी कट सके और मेरी काम-इच्छा भी पूरी हो सके। मैंने बहुत प्रयास किया पर किसी भी अमीर और ख़ूबसूरत लड़की को पटा नहीं सका, क्योंकि यहाँ कि लड़कियों को पैसे वाले लंड पसन्द आते हैं।
तो मैंने आख़िर में एक मध्यम-वर्गीय लड़की जो दूसरों के घरों में काम करने जाती थी, उसको अपनी नौकरी और पैसे की झलक दिखलाकर पटा लिया। मेरी उससे फोन पर बातचीत भी शुरु हो गई। एक दिन शाम को मैंने उसे अपने घर बुलाया यह कह कर कि मेरी तबीयत ख़राब है और मेरे सभी दोस्त घर गए हैं। तुम मेरे लिए खाना बना दो, वरना मुझे भूखा ही सोना पड़ेगा। मेरी तबीयत ख़राब है, यह सोचकर वो मेरे लिए खाना बनाने मेरे फ्लैट में आ गई। मैं कई दिनों से इसी ताक में था कि कब मेरे दोस्त लोग फ्लैट पर ना हों और मैं उस कामवाली को चोद दूँ। उस दिन जब वो मेरे फ्लैट में आई तो मैं खुश हो गया। मैंने उसे किचन दिखा दिया, जब वो खाना बनाने की तैयारी कर रही थी, तो मैंने धीरे से उसके पीछे जाकर थोड़ा सा चिपक कर खड़ा हो गया। वह अचानक मुझे पीछे देखकर घबरा सी गई और बोली, “आपकी तबीयत ख़राब है, आप जाकर आराम कीजिए… मैं खाना बना दूँगी…”
मैं उसकी बात सुनकर उससे थोड़ा और चिपक गया। इससे पहले कि वो कुछ कहती मैं उसकी दोनों चूचियों को एक बार ज़ोर से दबा दिया और फिर सहलाने लगा। पहले तो उसे बहुत डर लगा, लेकिन बाद में धीरे-धीरे सहलाने से उसे मज़ा आने लगा और वो आँखें बन्द कर मज़े लेने लगी। मैंने लोहा गरम होते देख उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसे चूमने लगा। मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी पैन्टी में डाल दिया और उससे पहले कि वह कुछ विरोध कर, मैंने उसकी चूत में उँगली डाल दी, और ज़ोर-ज़ोर से आगे-पीछे करने लगा। वो अब सब कुछ भूल कर मदहोश होने लगी।
मैं उसे किचन में ही नंगा करने लगा और वो कुछ नहीं बोली। थोड़ी ही देर में वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी। उसके शरीर पर एक भी तिनका कपड़ा का नहीं बचा था। उसे इस तरह देखकर मेरा लण्ड तुरन्त खड़ा हो गया। अब वो भी जोश में आकर मेरे कपड़े उतारने लगी और मैं भी उसकी मदद करते हुए जल्दी से पूरा नंगा हो गया।
मैंने अब अपना लंड उसके मुँह में डालना चाहा तो शर्म के मारे उसने मना कर दिया। फिर मैंने दूसरा तरीका अपनाया। मैंने अब उसे ज़मीन पर सुला कर उसकी चूत पर अपना मुँह रख दिया और उसकी चूत को ज़ोरों से चाटने लगा। अब उसने मस्ती और मदहोशी में चूर होकर अपनी आँखें बन्द कर लीं। मैंने इसी बात का फ़ायदा उठा कर उसकी चूत चाटते-चाटते ही 69 की मुद्रा में आ गया और मेरा लण्ड उसके होंठों पर रख दिया। पर इस बार भी उसने मना कर दिया। मैं नाराज़ होने का नाटक करने लगा और कपड़े पहनने लगा।
अब तक तो वह इतनी गरम हो चुकी थी कि मुझसे चुदवाने के लिए कुछ भी करना पड़े तो वो कर सकती थी। उसने तुरन्त मेरे लण्ड को मुँह में भर लिया और उसे आईसक्रीम की तरह चूसने लगी। मेरी योजना सफल हो गई, मैं बहुत खुश हुआ। आज तो जैसे लकी ड्रा ही निकल आया था मेरे लिए, अब हम दोनों 69 की स्थिति में थे। मैं उसकी चूत चाट रहा था, और वह मेरा लंड चूस रही थी। क़रीब आधे घंटे तक मैंने उसके मुँह की चुदाई की, इसी दौरान वह एक बार झड़ चुकी थी, और मेरे लंड ने भी उसके मुँह में एक बार उल्टी कर दी थी। वो उस सफेद गाढ़े द्रव को पूरा पी गई।
अब तक आग दोनों ओर भड़क चुकी थी। मैंने अपना लंड उसके मुँह से निकाला और अब उसकी चूत में डालने लगा, लेकिन उसकी चूत काफी तंग थी, अतः मैं असफल हो गया। उसकी सील शायद अभी तक नहीं तोड़ी गई थी। मैंने किचेन से तेल लेकर अपने लंड पर और थोड़ा तेल उसकी चूत पर भी लगा दिया और फिर से चूत में लंड डालने लगा। इस बार मैंने उसकी चूत में एक ज़ोर का झटका दिया और लंड दो इंच तक अन्दर घुसा दिया। इस झटके से वो तड़प उठी और ज़ोर से चिल्लाई। मैंने उसका मुँह तुरन्त बन्द कर दिया, और साथ ही एक और झटका दिया तो उसकी आँखों से आँसू निकल आए। मैं डर गया तो मैंने उसके मुँह से हाथ हटा लिया। वो बहुत रोई, अब उसकी चूत से खून निकल रहा था। मैंने उससे धीरे-धीरे चोदने का वादा करके फिर से राजी किया। अब मैं अपनी कमर धीरे-धीरे चला रहा था और ऐसे ही धीरे-धीरे अपना ८ इंच लम्बा लंड उसकी चूत के अन्दर गाड़ ही दिया।
थोड़ी देर में दर्द कम होने की वज़ह से उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी मेरा साथ अपनी चूत हिला-हिला कर देने लगी। अब उसे मज़ा आने लगा था और वो ख़ुद बोल रही थी… ज़ोर से चोदो मुझे, और ज़ोर से, फाड़ दे आज मेरी चूत, बुझा दे आज इसकी प्यास… फाड़ दे साली चूत को और ज़ोर से…
मैं भी उसकी बात सुनकर जोश में आकर ज़ोरों के झटके मारने लगा। थोड़ी देर बाद मैंने उसे कुतिया बना कर उसकी चुदाई की। लगभग २५ मिनटों की चुदाई के बाद वो झड़ गई, और उसके २ मिनट बाद मुझे भी लगा कि अब मैं झड़ने वाला हूँ तो मैंने अपना लंड निकाल कर उसके मुँह में चुदाई करनी शुरु कर दी। और अन्त में मैं भी उसके मुँह में झड़ गया। उसने फिर मेरे लण्ड का सारा पानी पी लिया और मेरे लण्ड को चाट-चाट कर साफ कर दिया।
उसके बाद हम दोनों किचन से निकल करक साथ में नहाने चले गए। नहाने के बाद मैंने उसे अपना मोबाईल देकर कहा कि अपने घर फोन करके कह दो कि आज तुम मैडम (जिसके घर वह काम करती थी) के यहाँ रुकोगी, क्योंकि उनके पति घर पर नहीं हैं, तो उन्होंने मुझे आज रात यहीं रुकने को कहा है। उसने घर पर यही बता दिया। उसके घर वालों को कोई आपत्ति नहीं थी।
हमने होटल से खाना मँगवा कर खाया। उसके बाद फिर दोनों नंगे ही बिस्तर पर सो गए। रात में मैंने उसकी चार बार चुदाई की और एक बार गाँड भी मारी। पर सबसे ज़्यादा मज़ा मुझे उसकी गाँड मारने में आया था… उस रात की चुदाई के बाद वो जब भी मुझसे बात करती तो यही कहती कि अब आपकी तबीयत कब ख़राब होगी??? और मैं जब भी अपने फ्लैट पर अकेला होता तो उसे किसी ना किसी बहाने बुलाकर चुदाई का खेल खेलता।
दोस्तों ये थी मेरी कहानी।


Online porn video at mobile phone


அவள் வெள்ளை கலர் ஜட்டி போட்டிருந்தாள் tamil kamakathaikalSexy uncle kodutha kama sugam tamil sex kadhaigalஅக்காவின் நைட்டிக்குள் sex storiesदोस्त के भाई ने सोतेसमय चोदाकाकूंच्या ब्रा ची जादू सेक्स कथाsexmobeliveகாமகதைகள் ஆண் guyপরিবার চটিತಂದೆ ತಾಯಿ ಕೆದಾಟமார்பு வரை துண்டு கட்டி குளியல் காம கதைপারিবারিক কাকল্ড চোদাচুদিNa friends na sallu cheekaru kamakathalusexy kaku musakan mahatiत्यानंतर मी वहिनी मॅडम ला नेहमी कॉलेज मधून माझ्या घरी नेऊन झवायला www.marathi hot xxx storye.comगे झवाझवी स्टोरी काका आणि माझीবাতরুমে বাংলাSEXwww.chelli to hardga dengulata.கருத்த சுன்னியும் புண்டையும்Me aani hastmyathun marathi gay storiesPakkienti vala tho sex Kama toriesআমার অত্যাচারি দিদি বাংলা চোটি গল্পआत्याची पोरगी मराठी सेक्स कथाగ్రూప్ దేన్గుడుకిमाझा लंड चाटू लागलीപ്ലസ് ടു കുണ്ണ കണ്ട ചേച്ചിஎன் மகனின் சுன்னியை ஊம்ப சொன்னார்পুজার সময় চোদার গল্পthangachi udan naanum nanbanumபாவாடை சைடு புண்டை செஸ் ஸ்டோரிপোদের ভিতরে মাল চটিkarutha amma nattukatai sex storiesAppa mangal tamil sex Katha মা ছেলে সেক্স বেগwww.marathi sex storye hot aatyaশাহেদ chotiছেরির দুধWww 18yair indian sex.comபுருஷன் பொண்டாட்டியாகदोस्त के भाई ने सोतेसमय चोदाmarathi halakat katha.comরুনুর চোদার কাহিমীবুডির বাংলা Sexಅಮ್ಮ ಸೂಳೆ ಕೆದಾಟতুই খাসা মাগীবউয়ের মুত খাওয়া choti golpoपापाजी मुझे और ननद को चोदकर शांत किया அம்மா மற்றும் குடும்ப பெண்கள் காமக்கதைচুদে খুশি করো দিলামपुच्चीत पाणी कथाkothaga dengudu style ಬೆಣ್ಣೆ ಮೊಲೆसेक्सी कथा मराठी ऑफिस ब्राची पट्टी काढलीচটি গল্প মামীর যোনী পুজোनागडी किचनमध्ये गेलीperiyavar kamakathaiছেলেকে বললো ঠিক আছে আমি কসম করছি আমি তোর সাথে চুদাচুদি করবোme sleva bani or group me chudii Hindi sex storiesதமிழ் டீச்சர்ஸ் செஸ் ஸ்டோரஅம்மாவின் அழகு புண்டை காமக்கதைবিডিএসএম storyஅம்மா மகன் சீக்ரெட்டா ஒத்த கதைWWW.काकुला ठोकल. मराठी.SEX.VIDEO.STORE.IN.telugu timmiri todalumuslim old chavat kathaसासुची पुच्ची कथाভাইয়ার কোলে বসে ধোনের ছোয়া জায়গা কমNaavayasu 12sexवहिनीच्या पुच्चीची मजा घेतलीtamilkama kathaikal oombu dTelugu sex story "part 15"বাংলা কাকওল্ড স্বামীর চোদনআম্মু বাসায় নাইটি ব্রা প্যান্টি পরেনPinni pallu taganu sex story Teluguबहिणी सोबत सुहागरात्रtelugu hot sex stories attha vaidna villy storiesচটি গুদ পুজুতুই খাসা মাগীआईची पेंटीmasir guder ros khayaमराठी सेक्स कथा आणि कहाणीTamil sex story mama appavin nanparஅக்கா அது ஏன்னா காமக்கதைआत्याची झवाझवी कहानीதங்கை புன்டையில்mutti mutti paal kudithan kama kadhaigalபெரியம்மாவும் பலான படம்घाल रे लवडा माझ्याbangla galpo barotherतिच्या पुच्ची मध्ये माझे बोट टाकले होते आणि ती ओरडू पण शकली नाही कारण कि जवळ नानी झोपली होती கல்லூரி பேராசிரியை sex story